Thursday, May 19th, 2022

CG News : कांग्रेस की सत्ता वापसी के लिए कवायद तेज,बस्तर पर ध्यान केंद्रित

प्रदेश में विधानसभा चुनाव में करीब डेढ़ वर्ष का समय रह गया है। ऐसे में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सत्ता वापसी के लिए तैयारी तेज कर दी है। भूपेश बघेल चार मई से विधानसभा क्षेत्रों के दौरे पर निकल रहे हैं। पहले चरण में वे बस्तर और सरगुजा संभाग की सभी 26 सीटों पर जाएंगे। वहां सरकार की योजनाओं के साथ विधायकों के कामकाज और प्रदर्शन को परखेंगे। इन सभी सीटों पर कांग्रेस के विधायक हैं। वर्ष 2018 में सत्ता की चाबी कांग्रेस को यही से मिली थी। यही वजह है कि भूपेश बघेल इन्हीं दोनों संभागों से दौरे की शुरुआत करने की तैयारी में हैं।
राजनीतिक विश्लेषकों की राय में आदिवासी वोटर जिस का साथ देता है। सरकार उसी की बनती है। यही वजह है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपनी दूसरी पारी के लिए इस वोट बैंक का मिजाज पहले ही परख लेना चाहते हैं। पार्टी सूत्रों के अनुसार विधानसभा क्षेत्रों में भूपेश बघेल लोगों से सीधा संवाद करेंगे। इस दौरान वे सरकार की योजनाओं के संबंध में बात तो करेंगे, साथ ही स्थानीय विधायक को लेकर भी जनता से फीडबैक लेंगे। माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री का दौरा वर्ष 2023 में टिकट वितरण का बड़ा आधार बन सकता है।

बस्तर ने लोकसभा में भी दिया था कांग्रेस का साथ:
विधानसभा चुनाव में सरगुजा के सभी 14 सीटों पर कांग्रेस ने जीत दर्ज की लेकिन बस्तर संभाग की 12 में से 11 सीट ही मिल पाई थी। दंतेवाड़ा सीट से भाजपा के भीमा मंडावी जीते थे। नक्सली हमले में भीमा की मौत के बाद हुए उपचुनाव में यह सीट भी कांग्रेस के खाते में आ गई। लोकसभा चुनाव में भी बस्तर ने कांग्रेस का साथ दिया और यहां से दीपक बैज सांसद बने।
दोनों संभागों में मजबूत है कांग्रेस:
प्रदेश में वर्ष 2018 के पहले हुए तीन चुनावों में कांग्रेस सत्ता हासिल नहीं कर सकी लेकिन दोनों संभागों में उसका वोट शेयर अच्छा रहा। बस्तर में वर्ष 2013 के चुनाव में भाजपा का वोट शेयर 40.79 और कांग्रेस का वोट शेयर 42.99 प्रतिशत था जबकि कांग्रेस सरकार नहीं बना पाई थी। इसी तरह सरगुजा संभाग में 2013 के चुनाव में कांग्रेस का वोट शेयर लगभग 42 और भाजपा का वोट शेयर 40% था।
सीएम का दौरा कार्यक्रम:
4 से 11 मई तक सरगुजा के सामरी, रामानुजगंज, प्रतापपुर, रामानुजगंज, प्रेमनगर, अंबिकापुर और सीतापुर।
18 से 20 मई तक बस्तर संभाग के कोटा, बीजापुर और दंतेवाड़ा। 23 से 27 मई तक बस्तर संभाग के ही केशकाल, कोडागांव, चित्रकोट, बस्तर और जगदलपुर। 30 मई से 2 जून के मध्य नारायणपुर, कांकेर, भानुप्रतापपुर, अंतागढ़।
6 से 11 जून के मध्य सरगुजा की छह सीट जशपुर, कुनकुरी, पत्थलगांव, भरतपुर, सोनहत, मनेंद्रगढ़ और बैकुंठपुर विधानसभा क्षेत्र के दौरे पर रहेंगे।

Leave a Reply

x
%d bloggers like this: