Thursday, May 19th, 2022

CG News : एलआईसी के आईपीओ का विरोध
कल बीमा कर्मियों की देशव्यापी हड़ताल


भारत सरकार द्वारा एल आई सी के आईपीओ पर देशभर में जारी जबरदस्त विरोध के बावजूद 4 मई को उसके आईपीओ जारी करने के फैसले का तीव्र प्रतिवाद करते हुए आईपीओ की बिक्री खुलने के दिन ही इसके खिलाफ बीमा कर्मी देशव्यापी बहिर्गमन हड़ताल करेंगे । एआईआईआईए ने उसका आव्हान किया है ।

एआईआईईए के संयुक्त सचिव धर्मराज महापात्र ने उक्त जानकारी देते हुए कहा कि सरकार एलआईसी को शेयर बाजार में सूचीबद्ध कर 4 मई को एलआईसी का आईपीओ जारी कर रही है। एलआईसी बोर्ड ने आईपीओ के आकार को पहले के 5 फीसदी से घटाकर 3.5 फीसदी कर दिया है। यह अनुमान है कि सरकार एलआईसी से अपने 3.5 प्रतिशत शेयरों का विनिवेश करके लगभग 21,000 करोड़ रुपये जुटाएगी। राजकोषीय संसाधनों को जुटाने एलआईसी के शेयरों को बेचने की सरकार की हताशा स्पष्ट है। सरकार ने एलआईसी के मूल्यांकन को लगभग 15 लाख करोड़ रुपये से घटाकर 6 लाख करोड़ रुपये कर दिया है। यह इस देश के लाखों पॉलिसीधारकों और नागरिकों के विश्वास का एक गंभीर उल्लंघन है, जिन्होंने इन सभी वर्षों में एलआईसी का समर्थन किया है। यह बीमा करने वाली जनता के समर्थन एवं कार्यबल के पसीने और परिश्रम से निर्मित राष्ट्र की मूल्यवान संपत्ति को सस्ते दामों पर बेचने का सबसे ज़बरदस्त प्रयास है। सरकार के प्रवक्ता खुले तौर पर इस बात की वकालत करते रहे हैं कि शेयर की कीमत कम रखी जा रही है ताकि निवेशक ऊंचे लिस्टिंग मूल्य से लाभ उठा सकें। नव-उदारवादी आर्थिक विचार की यह योजना अस्वीकार्य है। देश के अनेक अर्थशास्त्री और समाज के विभिन्न हिस्सों के प्रबुद्ध जनों ने इसमें भारी भ्रष्टाचार का भी आरोप लगाया है उनके अनुसार सरकार के द्वारा मूल्य कम किए जाने और उसके केवल 1.1 गुना जो कि न्यूनतम है के आधार पर शेयर दर तय किए जाने से ही सरकारी कोष में 40 से 50 हजार करोड़ रुपए के भारी नुकसान का अनुमान लगाया है ।
महापात्र ने कहा कि 4 मई को भोजनावकाश के पूर्व सभी कार्यालयों दो घंटे की बहिर्गमन हड़ताल कर आक्रोश सभा की जायेगी । रायपुर में पंडरी मंडल कार्यालय में यह सभा होगी जिसमे विभिन्न ट्रेड यूनियनों के नेता भी शिरकत करेंगे ।
धर्मराज महापात्र
सहसचिव
एआईआईईए
9425205198

Leave a Reply

x
%d bloggers like this: