Tuesday, September 21st, 2021

Credit Card Limit बढ़ाने का प्लान, फैसला लेने से पहले जान लें इसके फायदे और नुकसान

Credit Card Limit : जिन ग्राहकों का सिबिल स्कोर अच्छा होता है तो उनके पास बैंक की तरफ से अक्सर ऐसे कॉल या मैसेज आते हैं जिनमें उन्हें क्रेडिट लिमिट बढ़ाने का ऑफर दिया जाता है.

क्रेडिट कार्ड रखने वाले जिन ग्राहकों का सिबिल स्कोर अच्छा होता है तो उन्हें पास बैंक की तरफ से अक्सर ऐसे कॉल या मैसेज आते हैं जिनमें उन्हें क्रेडिट लिमिट बढ़ाने का ऑफर दिया जाता है. कुछ लोग इन ऑफर को स्वीकारते हुए अपनी क्रेडिट लिमिट बढ़वा लेते हैं जबकि कुछ अपनी क्रेडिट लिमिट नहीं बढ़ाते हैं. आज हम आपको बता रहे हैं कि क्रेडिट लिमिट बढ़ाने वाले के फायदे नुकसान क्या हैं.

Capture

Read This Also : मुंबई में भी 100 रुपये के पार पहुंची पेट्रोल की कीमत, जानें किस शहर में सबसे महंगा बिक रहा पेट्रोल-डीजल

Credit Card Limit बढ़ाने के फायदे

  • क्रेडिट लिमिट बढ़ाने का एक फायदा यह होता है कि आपके क्रेडिट स्कोर में सुधारा आ सकता है. आपका सिबिल स्कोर ठीक होने और रीपेमेंट हिस्ट्री ठीक होने पर ही आपकी क्रेडिट लिमिट बढ़ती है.
  • अगर आपकी क्रेडिट लिमिट बढ़ी हुई है तो आप मुश्किल वक्त – जैसे नौकरी जाना, बीमारी, दुर्घटना जैसे हालात का बेहतर ढंग से सामना कर पाएंगे.
  • एक फायदा यह भी है कि अगर आप अगली ड्यू डेट तक क्रेडिट कार्ड बिल का भुगतान नहीं कर सकते हैं तो आप अपने पूरे बिल या इसके कुछ हिस्सों को ईएमआई में बदलवा सकते हैं.
  • अगर आपकी क्रेडिट लिमिट बढ़ी हुई है तो क्रेडिट कार्ड के बदले आपको ज्यादा लोन मिल सकता है. हालांकि जिनकी अच्छी क्रेडिट हिस्ट्री है और जिन्हें भुगतान समय पर किया है उन्हें यह लोन मिलेगा.
Credit Card Limit बढ़ाने का प्लान, फैसला लेने से पहले जान लें इसके फायदे और नुकसान
Credit Card Limit बढ़ाने का प्लान, फैसला लेने से पहले जान लें इसके फायदे और नुकसान

Credit Card Limit बढ़ाने के नुकसान

  • बड़ी क्रेडिट लिमिट का सबसे बड़ा नुकसान शायद यही है कि आप पर कर्ज का बोझ बढ़ सकता है. क्रेडिट लिमिट बढ़ाने से आपकी खर्च करने की कैपिसिटी बढ़ जाएगी. अगर आपने सोच समझ कर क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल नहीं किया तो आप कर्ज के जाल में फंस जाएंगे.
  • बिल का भुगतान न करने पर बकाया राशि पर आपको अधिक ब्याज चुकाना होगा. अगर आपकी क्रेडिट लिमिट बढ़ी हुई है और आपने ज्यादा खर्च कर दिया है तो ज्यादा संभावना यही है कि आप अपने बिल का पूरा भुगतान नहीं कर पाएंगे. ऐसे में आपको अधिक ब्याज देना होगा.

Read This Also : लाखाें टैक्सपेयर्स को बड़ी राहत, Income Tax डिपार्टमेंट ने बढ़ाई आईटीआर दाखिल करने की डेडलाइन

Credit Card Limit बढ़ाने का प्लान, फैसला लेने से पहले जान लें इसके फायदे और नुकसान
Credit Card Limit बढ़ाने का प्लान, फैसला लेने से पहले जान लें इसके फायदे और नुकसान

क्या आप भी अपनी शॉपिंग, फूडिंग, ट्रैवलिंग के लिए क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते हैं? आजकल ज्यादातर लोग इसी तरह अपने खर्चों को मैनेज करते हैं. जब कोई चीज हमें तुरन्त खरीदनी है और उसकी कीमत हमारे बजट से बाहर है, तो क्रेडिट कार्ड ही ऐसे वक्त पर साथ देता है. कैश नहीं होने पर भी इससे खरीदारी करके हम अपनी पसंदीदा चीज को खरीद लेते हैं. 

क्रेडिट कार्ड का सबसे बड़ा फायदा यह है कि अकाउंट से तुरन्त पैसा डेबिट नहीं होता. बल्कि उसे चुकाने के लिए ग्रेस पीरियड मिलता है. वहीं, ग्रेस पीरियड में भुगतान करने पर ब्याज का नुकसान भी नहीं होता. लेकिन, क्या आपको पता है कि क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करते वक्त अगर कुछ बातों का ध्यान न रखा जाए तो काफी नुकसान उठाना पड़ता है. 

आपने अक्सर देखा होगा कि जब कभी भी आपके अकाउंट में बैलेंस मिनिमम से नीचे आ जाता है तो मोबाइल पर मैसेज का अंबार लग जाता है. लेकिन, क्रेडिट के बिल को जमा करने के लिए आपके पास कोई मैसेज नहीं आता. क्योंकि, कंपनी चाहती ही नहीं है कि आप पहले महीने में ही सारा पेमेंट कर दें. बल्कि, कंपनियां तो ये चाहती हैं कि आप और लेट करें और बाद में लेट फीस भरें.

Leave a Reply

x
%d bloggers like this: