Wednesday, December 8th, 2021

इंग्‍लैंड की टीम सिर्फ 52 रनों पर ढेर हुई, भयंकर रिकॉर्ड बनाने से सिर्फ 4 रन दूर रह गया ये बल्‍लेबाज

क्रिकेट के किसी मैच खासकर टेस्‍ट मुकाबले में कोई टीम 52 रनों पर ढेर हो जाए तो सारा ध्‍यान उसके लचर प्रदर्शन पर होता है. लेकिन इस मुकाबले में कहानी थोड़ी अलग थी. इंग्‍लैंड क्रिकेट टीम ओवल के मैदान पर खेले गए इस टेस्‍ट मैच में सिर्फ 52 रन के मामूली स्‍कोर पर सिमट गई. लेकिन दुनिया का ध्‍यान इंग्‍लैंड के इस शर्मनाक प्रदर्शन से ज्‍यादा एक बल्‍लेबाज के चार रनों से इतिहास रचने से चूकने पर था. वो चार रन जो अगर बन जाते तो क्रिकेट की दुनिया का सबसे बड़ा करिश्‍मा होता. बताते हैं आपको कि आखिर ये माजरा है क्‍या.

दरअसल, साल 1948 में इंग्‍लैंड और ऑस्‍ट्रेलिया (England vs Australia) के बीच 14 से 18 अगस्‍त तक ओवल के मैदान पर टेस्‍ट मैच खेला गया. ये ऑस्‍ट्रेलियाई दिग्‍गज डॉन ब्रैडमैन (Don Bradman) का आखिरी टेस्‍ट मैच था जिसमें वो चार रन और बना लेते तो टेस्‍ट क्रिकेट में उनका औसत 100 का आंकड़ा छू लेता. लेकिन ऐसा हो नहीं सका.

बहरहाल इंग्‍लैंड ने पहले बल्‍लेबाजी तो की लेकिन पूरी टीम सिर्फ 52 रनों पर ढेर हो गई. ओपनर लियोनार्ड हटन ने 30 रन बनाए जबकि कोई और बल्‍लेबाज दहाई के अंक तक नहीं पहुंच सका. पांच खिलाड़ी तो खाता तक नहीं खोल सके. रे लिंडवाल ने 6 विकेट चटकाए. जवाब में ऑस्‍ट्रेलियाई पारी 389 रनों पर खत्‍म हुई. ओपनर ऑर्थर मौरिस 196 रन बनाकर रनआउट हुए. वहीं सिड बार्न्‍स ने 61 रनों का योगदान दिया. डॉन ब्रैडमैन अपनी आखिरी पारी में बिना खाता खोले आउट हो गए. ब्रैडमैन को पवेलियन भेजने वाले एरिक होलीज ने पांच विकेट लिए.

पारी और 149 रनों से जीता ऑस्‍ट्रेलिया

इसके बाद इंग्‍लैंड ने दूसरी पारी शुरू की लेकिन इस बार भी टीम सिर्फ 188 रन ही बना सकी. लियोनार्ड हटन एक बार फिर 64 रन बनाकर सर्वोच्‍च स्‍कोरर रहे. उनके अलावा डेनिस कांप्‍टन ने 39 रन बनाए. ऑस्‍ट्रेलिया के लिए बिल जॉन्‍सटन ने चार विकेट लिए जबकि रे लिंडवाल ने तीन बल्‍लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई. उनके अलावा दो विकेट कीथ मिलर के खाते में दर्ज हुए. इस तरह ये मैच ऑस्‍ट्रेलिया ने पारी और 149 रनों से अपने नाम किया.

Leave a Reply

x
%d bloggers like this: