Tuesday, October 26th, 2021

Good Vaccinations : मोदी को जन्मदिन का मिला गिफ्ट, टीके का बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, एक दिन में ढाई करोड़ पड़े डोज

कोरोना वायरस के खिलाफ जंग जारी है। भारत ने वैक्सीनेशन अभियान में शुक्रवार को विश्व रिकॉर्ड बनाया। शुक्रवार को एक दिन में 2.49 करोड़ से अधिक लोगों को कोविड-19 का टीका लगाया गया। कोविड-19 वैक्सीनेशन के ये डोज कई छोटे देशों की कुल जनसंख्या से भी ज्यादा है। न्यूजीलैंड की कुल जनसंख्या 50 लाख से भी कम है। भारत के पड़ोसी देश श्रीलंका की कुल आबादी 14 लाख के आसपास है। असके अलावा सीरिया, कंबोडिया, सोमालिया जैसे देशों की जनसंख्या से भी ज्यादा टीके भारत में इस दिन लगे हैं।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के अवसर पर टीकाकरण अभियान को बड़ा प्रोत्साहन देते हुए भारत ने यह रिकॉर्ड बनाया है। शुक्रवार की रात 12 बजे तक को-विन पोर्टल पर उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक कुल 2,49,08,390 कोरोना के टीके लगाए गए। इससे पहले शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में टीकाकरण के इस रफ्तार पर खुशी जताते हुए ट्वीट किया था, ”हर भारतीय आज रिकॉर्ड संख्या में किये गये टीकाकरण को लेकर गौरवान्वित होगा। मैं टीकाकरण अभियान को सफल बनाने के लिए हमारे चिकित्सकों, नवोन्मेषकों , प्रशासकों, नर्सों, स्वास्थ्य सेवा और अग्रिम मोर्चे के सभी कर्मियों की सराहना करता हूं। कोविड-19 को हराने के लिए टीकाकरण को बढ़ावा देते रहें।”कर्नाटक ने देश में सर्वाधिक 26.92 लाख खुराक दी, जबकि बिहार में 26.6 लाख से अधिक खुराक दी गई। वहीं, उत्तर प्रदेश में 24.8 लाख से अधिक खुराक, मध्य प्रदेश में 23.7 लाख से अधिक खुराक और गुजरात में 20.4 लाख से अधिक खुराक दी गई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने ट्वीट किया, ”वैक्सीन सेवा को चरितार्थ करते हुए स्वास्थ्य कर्मियों एवं देशवासियों की तरफ़ से प्रधानमंत्री जी को उपहार। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर भारत ने नया कीर्तिमान स्थापित करते हुए एक दिन में टीके की दो करोड़ खुराक लगाने का ऐतिहासिक आंकड़ा पार किया है।”देश में चौथी बार एक दिन में एक करोड़ से ज्यादा खुराकें दी गईं। मांडविया ने कहा कि देश ने अब तक सबसे तेज एक करोड़ खुराकें देने का आंकड़ा पार कर लिया है। देश में छह सितंबर, 31 अगस्त, 27 अगस्त को एक करोड़ से अधिक खुराकें दी गई थीं। मांडविया ने बृहस्पतिवार को कहा था कि जिन्होंने टीके की खुराक नहीं ली है, ऐसे अपनों को, परिजनों को और समाज के सभी तबकों को शुक्रवार को प्रधानमंत्री के जन्मदिन पर टीका लगवाकर, उनको जन्मदिन का उपहार दिया जाए।
     मंत्रालय के मुताबिक, भारत को टीकाकरण के 10 करोड़ आंकड़े तक पहुंचने में 85 दिन लगे। इसके बाद अगले 45 दिन में 20 करोड़ तथा इसके 29 दिन बाद 30 करोड़ के आंकड़े पर देश पहुंचा था। वहीं, 30 करोड़ से 40 करोड़ के आंकड़े तक पहुंचने में 24 दिन लगे और इसके 20 दिन बाद छह अगस्त को 50 करोड़ के आंकड़े पर पहुंच गए।

Leave a Reply

x
%d bloggers like this: