Human Story : राम का तो बन गया महल और पर इन गरीबों के पास आशियाना भी नहीं, राम भरोसे थे रामभरोसे ही रहेंगे !

newshustleindia.com
4 Min Read
Human Story

Human Story : आप भारत के किसी भी गांव या शहर में चले जाएं आपको हजारों ऐसी जिंदगी मिलेगी जिनके आसियाने नहीं है ।

कोई किसी फुटपाथ पर सोया मिल जायेगा । या फिर कोई किसी पेड़ के नीचे किसी चबूतरे पर पड़ा मिल जायेंगे । चाहे कितनी

भी गर्मी हो या चाहे कितनी भी ठंड हो ,बरसात हो उनकी जिंदगी बस ऐसे ही सड़क पर कटती नज़र आएगी । इनमे से

कोई बेचारा तो पूरे परिवार सहित सड़क पर मिलेगा जिनके साथ छोटे छोटे बच्चे भी होते हैं । कोई घर से बेघर वाला होता

है तो कोई किस्मत का मारा होता है । अगर इनकी तबियत बिगड़ जाए तो इनकी देखरेख करने वाला भी कोई नहीं होता

। ये सब अपनी हालत पर सड़क पर ही पड़े रहते हैं । इनको सिर्फ राम का ही सहारा होता है । लेकिन देखिए राम के

लिए तो अयोध्या ने बड़ा महल बन गया पर जो राम के भरोसे जो पड़े हैं उनकी सुध लेने वाला कोई भी नहीं है । राम भी

उनकी सुध लेने नहीं आ रहे । सरकारें तो बहुत ढिंढोरा पीटती हैं की वे गरीबों के लिए पक्का आवास बना रहें हैं । पर वह

आवास कब बनता है और कब किसको मिल जाता है पता ही नहीं चलता ये गरीब तो हमेशा सड़क पर ही मिलेंगे । राज्य

केंद्र सरकारें रोज मीडिया में बयान दे रहें हैं की हम गरीबों के लिए आवास बना रहें हैं । अब कोई गरीब छत विहीन नहीं

रहेगा ।मीडिया वाले बहुत जोर शोर से उनका बयान और उनका फोटो छाप रहें हैं । लेकिन वास्तविकता क्या है इसे

जानने की कोशिश कौन करता है । कोई नहीं । सरकार जो आवास बनाती है वह उनके स्वार्थ की भेंट चढ़ जाता है । बने

हुए आवास गरीबों को नहीं मिलते ।

Human Story
Human Story

ये आवास मंत्री , सांसद,विधायक ,अफसर और नेताओं के नाते रिश्तेदारों को

आबंटित हो जाते हैं । या फिर घूसखोरी के चलते साधन संपन्न लोग खरीदने में सफल हो जाते हैं । तो ऐसे में आखिर वह

गरीब तो गरीब ही रह गया जिनके नाम पर आवास बनाने का ढिंढोरा पीटा गया था । आखिर उनका क्या होगा वे तो

जिंदगी भर सड़क में ही पड़े रह जायेंगे । सरकार में ऊंचे ओहदे पर बैठे लोगों को यह सोचना चाहिए की जिनके लिए

आवास बनाए गए वे लोग सड़क पर क्यों हैं । जिनका हक है उन्हें उनका हक दिया जाना चाहिए । अगर इन गरीबों का

आशियाना भी लोग छीन लेंगे तो आखिर ये गरीब कहा जायेंगे । अमीर पूंजीपति और पैसे वाले वर्ग इन गरीबों का आवास

हड़प रहें हैं । जिनके पास खुद बड़े बंगले हैं उनकी नियत गरीबों के आवास पर खराब है यह बहुत दुखदाई है । सरकार

ऐसे बेघर लोगों का सर्वे कराए और इनको घर दे । इतनी बड़ी धरती में किसी इंसान के पास चार फुट का घर नहीं है यह

कैसी व्यवस्था है । सरकार को चाहिए वह बडी गंभीरता से इस मुद्दे पर सोचे और विचार करे । और ऐसी व्यवस्था लाए की

गरीबों को भी उनके अपने सिर पर एक छत हो । उनका परिवार कम से कम एक छत के नीचे सांस ले सके ।

TAGGED:
Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *