Welcome 2024 : नए साल का पहला दिन नए संकल्प और नई प्रतिबद्धताओं का हो, यही सच्चा स्वागत होगा

newshustleindia.com
4 Min Read

Welcome 2024 : नए साल की पहली सुबह की पहली किरण को नमस्कार करते हुए लोगों ने अपने नववर्ष की दिनचर्या शुरू की है ।

Welcome 2024

दरअसल नया साल तब तक सार्थक नहीं हो सकता जब तक हम कोई नए संकल्प के प्रति प्रतिबद्धता ना दिखाएं । इसलिए जीवन में यदि खुशहाली और उमंगों का संचार लाना है तो सबसे पहले व्यक्ति को अपने जीवन को अनुशासित करने का संकल्प लेकर नए साल का स्वागत करना चाहिए । लोगों ने अपनी खुशियां तो आतिशबाजी और धूम धड़ाके करके नए साल का स्वागत तो कर लिया पर इन खुशियों को स्थाई बनाने के लिए नए संकल्पों की हुई जरूरी होती है । रात में खूब धूम धड़ाका हुआ । अपने अपने तरह से पूरी दुनिया में नए साल का जश्न मनाया गया है । सबसे पहले न्यूजीलैंड में नए साल का जश्न मनाया गया । जबरदस्त आतिश बाजी और रंग बिरंगी फुलझडियां आसमान में छोड़ मनाया गया ।

Welcome 2024 : न्यूजीलैंड में सबसे पहले नव वर्ष ने दस्तक दी है फिर उसके बाद ऑस्ट्रेलिया में मनाया गया जश्न । फिर सारे जहां में उत्सव शुरू हो गया । भारत भी इससे पीछे नहीं रहा भारत में भी रंग बिरंगी लड़ियां आसमान में चमकने लगी और देखते देखते पूरा आसमान ठीक बारह बजे रात में रोशनी से सराबोर हो गया । आज सबसे ज्यादा भीड़ सुबह से मंदिरों में रही है और अभी हरेक मंदिर भक्त नए साल के शुभ होने की कामना और घर परिवार दुनिया की कल्याण के लिए भगवान से प्रार्थना कर रहें हैं । गणेश मंदिर ,शंकर भोले का मंदिर, और हनुमान मंदिर में ज्यादा भक्त दर्शन कर रहें हैं । लेकिन जहां भगवान श्री राम का मंदिर है वहां राम मंदिर में ज्यादा लोग पहुंच कर आशीर्वाद ले रहें हैं । इसका मुख्य कारण इस साल 22 जनवरी को अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर है । बहु प्रतीक्षित राम मंदिर का निर्माण लगभग पूर्ण हो गया है । जहां अब प्राण प्रतिष्ठा होना है ।इसकी व्यापक तैयारी चल रही है । पीएम मोदी 22 जनवरी को अयोध्या में राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा में भाग लेंगे । वहीं इस बार नए साल के प्रवेश के पहले ही कोरोना वायरस का नया वेरिटेंट जे एन 1 से निपटने की चुनौती भी खड़ी हो गई है । यह देखा जा रह है की कोरोना के केस रोज बढ़ते जा रहें हैं । केरल गोवा तमिलनाडु दिल्ली में तो ज्यादा ही इसके मरीज मिल रहें हैं । स्वस्थ मंत्रालय ने इसके लिए सावधानी बरतने के आवश्यक निर्देश जारी कर दिया है । अतः राम मंदिर के बाद अब दूसरा बड़ा काम करना होगा कि कोरोना को फैलने से रोकने का संकल्प प्रत्येक नागरिक ले और स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा दिए सभी निर्देशों का पालन करे । व्यापार व्यवसाय भी नए साल में एक अच्छा प्रतिसाद मिले इस पर संकल्प लेना चाहिए । लोगों ने नए साल में अपनी दुकानों को बहुत सजाया है । निःसंदेह इससे ग्राहकों को आकर्षित करने मदद मिलेगी । उद्यान और पर्यटन स्थलों में भी नए साल मनाने आज लोग भारी संख्या में पहुंच रही हैं । इससे राज्य सरकार को भी पर्यटन के क्षेत्र में राजस्व बढ़ाने में काफी मदद मिलेगी । बहरहाल जैसा भी हो अगर नए संकल्प और नई प्रतिबद्धताओं को लेकर नए साल मनाएं तो यह जीवन के उद्देश्यों को सार्थक बनाने में मददगार साबित होता है । ये सब जिंदगी की राह बनाते हैं आसान।

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *