Chhattisgarh : अयोध्या की तर्ज पर पहले मुफ्त छत्तीसगढ़ दर्शन योजना लाए सरकार, बड़े बुजुर्गों को मिले यह सुविधा

News Hustle India
3 Min Read
अब यदि सरकार ही यह सुविधा दे तो यह और अच्छी बात है ।

जिस तरह से छत्तीसगढ़ सरकार ने यहां की जनता को तीर्थ स्थलों के मुफ्त भ्रमण दर्शन के लिए योजना बनाई है वह सराहनीय है। अब तो सरकार अयोध्या के लिए भी मुफ्त राम लला के दर्शन कराने योजना शुरू कर दी है ।

Chhattisgarh : कल आस्था का ट्रेन अयोध्या के लिए दुर्ग रेलवे स्टेशन से रवाना भी किया गया है । बुजुर्गों को रिटायर के बाद भ्रमण की जरूरत होती भी है वे चाहते हैं अब अपने फुरसत के समय में भक्तिभाव कर ली जाए और देश के तमाम तीर्थ स्थलों का भ्रमण करने निकल जाते हैं । अब यदि सरकार ही यह सुविधा दे तो यह और अच्छी बात है ।

लेकिन ये यात्राएं तो देश के तीर्थों के लिए होती है । छत्तीसगढ़ की जनता अभी अपने ही प्रदेश के बहुत से तीर्थ स्थलों का दर्शन नहीं कर सकी है । बस्तर का व्यक्ति अपने खर्च से सरगुजा का सैर नहीं कर सकता । उसी तरह सरगुजा का व्यक्ति मां दंतेश्वरी का दर्शन करने दंतेवाड़ा नहीं जा पाता। छत्तीसगढ़ सरकार को चाहिए कि वह छत्तीसगढ़ के बड़े बुजुर्गों को पहले छत्तीसगढ़ के तीर्थ स्थलों का दर्शन कराए । इसके लिए वह हर माह प्रत्येक जिले से छत्तीसगढ़ मुफ्त दर्शन योजना नाम से बस चला सकती है ।

Chhattisgarh :और बस से पूरे छत्तीसगढ़ का भ्रमण करा सकती है ।

जहां जहां ट्रेन जाती है वहां ट्रेन से भी यह सुविधा दी जा सकती है । फिलहाल इसे बुजुर्गों तक यानी साठ साल के ऊपर के नागरिकों पर लागू करे । यह एक विडंबना ही है की छत्तीसगढ़ का आदमी देश का सब तीर्थ या ऐतिहासिक जगहों को घूम ले और छत्तीसगढ़ को ही न जान सके । केवल तीर्थ ही नहीं बल्कि छत्तीसगढ़ के ऐतिहासिक जगहों का भी दर्शन भ्रमण कराए ताकि छत्तीसगढ़ इतिहास को भी समझा जा सके ।

अगर छत्तीसगढ़ सरकार ऐसी योजना लेटर है तो यह निःसंदेह लोगों के लिए हितकारी साबित होगी । छत्तीसगढ़ पर्यटन अब संस्कृति विभाग को इसकी जिम्मेदारी सौंपी जा सकती है । इसमें सरकार को कोई बहुत बड़े बजट की जरूरत नहीं होगी वह थोड़े अल्प बजट पर भी यह योजना चला सकती है । राजिम,भोरमदेव,शिवरीनारायण,रतनपुर,डोंगरगढ़,दंतेश्वरी,सिरपुर, चैतुरगढ,ताला, बिलाईमाता,अभ्यारण और डेम को भी लिया जा सकता है ।

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *