उप मुख्यमंत्री अरुण साव ने अधिकारियों की बैठक लेकर की योजनाओं की प्रगति की समीक्षा

newshustleindia.com
6 Min Read

कार्यों में तेजी लाने के दिए निर्देश, कहा समस्याओं की गठरी न बांधे, त्वरित निराकरण करें*

कार्यालय से ज्यादा फील्ड में समय बिताएं अधिकारी, गुणवत्ता के साथ समय-सीमा में पूर्ण करें निर्माण कार्य*

सिंचाई पम्पों का प्राथमिकता से करें ऊर्जीकरण, सिंचाई संबंधी दशकों से लंबित कार्यों पर जताई नाराजगी*

गर्मी में पेयजल की समस्या और मौसमी बीमारियों से निपटने कार्ययोजना बनाने के दिए निर्देश*

रायपुर. 11 मार्च 2024. उप मुख्यमंत्री एवं बिलासपुर जिले के प्रभारी मंत्री श्री अरुण साव ने आज बिलासपुर में अधिकारियों की बैठक लेकर शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन एवं विकास कार्यों में प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने निर्माण कार्यों की गुणवत्ता सुनिश्चित करते हुए निर्माणाधीन कार्यों में तेजी लाकर समय-सीमा में पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अधिकारी ठेकेदारों के भरोसे न रहकर स्वयं फील्ड का दौरा करें और कार्यों की प्रगति देखें। उन्होंने शासकीय काम-काज में आने वाली समस्याओं के त्वरित निराकरण पर जोर दिया। विधायक श्री धरमजीत सिंह और श्री सुशांत शुक्ला तथा बिलासपुर के महापौर श्री रामशरण यादव भी समीक्षा बैठक में शामिल हुए।

उप मुख्यमंत्री श्री अरुण साव ने अधिकारियों का परिचय लेने के बाद विभागवार कार्यो की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने आसन्न गर्मी के मौसम को देखते हुए पेयजल एवं मौसमी बीमारियों से निपटने के लिए कार्ययोजना बनाकर सतर्क रहने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्माण कार्यों को समय पर पूरा करने और गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखने की हिदायत दी। उन्होंने इंजीनियरों से कहा कि कार्यालय से ज्यादा फील्ड में समय बिताएं। जानकारी के लिए केवल ठेकेदारों पर आश्रित न रहें। उन्होंने जल संसाधन विभाग में एक दशक से ज्यादा समय तक लंबित कामों पर नाराजगी जाहिर की। श्री साव ने जिला कलेक्टर के मार्गदर्शन में इनका समयबद्ध निराकरण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि समस्याएं बीमारी की तरह होती हैं। समय पर समाधान नहीं किए जाने पर नासूर बन जाती हैं। पीएचई विभाग द्वारा सड़क खोदने के बाद इसे खुला छोड़ दिया जाता है। उन्होंने इस तरह के कार्यों पर रोष जताते हुए काम हो जाने के बाद तुरंत सड़क ठीक करने के निर्देश दिए।
      
उप मुख्यमंत्री श्री साव ने बैठक में अधिकारियों से कहा कि काम-काज का तौर-तरीका अब बदल गया है। बदले माहौल के अनुरूप अधिकारी अपने आप को ढाल लें। पुराना ढर्रा नहीं चलेगा। उन्होंने एयरपोर्ट के काम में तेजी लाने को कहा। नाइट लैण्डिंग में आने वाली बाधाओं को दूर कर सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ काम पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने अभियान चलाकर सड़कों की मरम्मत करने एवं गड्ढे पाटने को कहा। उप मुख्यमंत्री ने बिजली विभाग में किसानों के पम्प ऊर्जीकरण के लिए लम्बित आवेदनों का त्वरित निराकरण करने को कहा। उन्होंने लो वोल्टेज की समस्या दूर करने के लिए भी त्वरित उपाय करने को कहा। श्री साव ने पीएम जनमन योजना की जानकारी लेकर इसकी प्रगति पर संतोष जाहिर किया। उन्होंने प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना की सतत मॉनिटरिंग के निर्देश दिए।
       
उप मुख्यमंत्री श्री साव ने अस्पतालों में डॉक्टरों की समय पर उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित किया। उन्होंने जिले में रेत, शराब एवं नशे के अवैध कारोबार को रोकने के सख्त निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इनसे समाज में बीमारी फैल रही है। अवैध कामों से अपराध बढ़ता है और कानून एवं व्यवस्था की स्थिति बिगड़ती है। अपराधियों पर कड़ी कार्रवाई हो, जनता भी इसमें सहयोग करेगी। श्री साव ने सभी कार्यालयों को घर की तरह साफ-सुथरा एवं व्यस्थित रखने को कहा। उन्होंने नगरीय प्रशासन विभाग के अधिकारियों से कहा कि वे सवेरे साढ़े छह बजे शहर का दौरा कर साफ-सफाई का निरीक्षण करें। इससे व्यवस्था में बदलाव दिखेगा।       

श्री साव ने बैठक में कहा कि अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि की जवाबदेही जनता के प्रति है। जनता को सरकारी योजनाओं का अधिकतम लाभ दिलाने वाले लोग हम ही हैं। उन्होंने अधिकारियों को संवेदनशीलता से काम करते हुए कार्य में आने वाली समस्याओं का समाधान करने को कहा। उन्होंने कहा कि अधिकारियों-कर्मचारियों के काम से सरकार की छबि बनती है। लोगों का सरकार के प्रति भरोसा बढ़ता है। आप लोग जब लोगों से नियमित रूप से मिलेंगे तो उनकी जरूरत का पता चलेगा। सरकार के पास किसी भी योजना के लिए राशि की कमी नहीं है। कलेक्टर श्री अवनीश शरण ने बैठक में प्रमुख योजनाओं की प्रगति की जानकारी दी। उन्होंने उप मुख्यमंत्री श्री साव द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुरूप काम करने का भरोसा दिलाया। पुलिस अधीक्षक श्री रजनेश सिंह, डीएफओ श्री संजय यादव, नगर निगम के आयुक्त श्री अमित कुमार और जिला पंचायत के सीईओ श्री रामप्रसाद चौहान सहित सभी विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी बैठक में मौजूद थे।

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *