Business: सरकारी दस्तावेजों में अब मां का नाम जरूरी , महाराष्ट्र सरकार का फैसला

News Hustle India
2 Min Read
News Hustle India

मुंबई,महाराष्ट्र सरकार ने सभी सरकारी दस्तावेजों में मां का नाम शामिल करना अनिवार्य करने का फैसला किया है। मीडिया  रिपोर्ट्स के अनुसार यह फैसला 1 मई 2024 से लागू होगा। महाराष्ट्र कैबिनेट ने फैसला किया है कि जन्म प्रमाण पत्र, स्कूल दस्तावेज, संपत्ति दस्तावेज, आधार कार्ड और पैन कार्ड जैसे सभी सरकारी दस्तावेजों पर मां का नाम अनिवार्य होगा।राज्य सरकार का कहना है कि यह निर्णय माताओं की महत्वपूर्ण भूमिका को स्वीकार करने के उद्देश्य से लिया गया है।आयकर विभाग ने 2018 में यह स्पष्ट कर दिया था कि पैन आवेदन पत्र में पिता का नाम उन मामलों में अनिवार्य नहीं होगा जहां आवेदक की मां एकल माता-पिता हैं। सीबीडीटी ने तब नियमों में संशोधन किया था जो आवेदक को विकल्प देता है कि क्या मां एकल माता-पिता है और आवेदक केवल मां का नाम जमा करना चाहता है।दिल्ली हाई कोर्ट का फैसला
दिल्ली हाई कोर्ट ने हाल ही में कहा था कि छात्रों के सर्टिफिकेट, डिग्री और अन्य शैक्षणिक दस्तावेजों में जहां माता-पिता का नाम लिखा जाना चाहिए, वहीं मां का नाम भी होना चाहिए। न्यायमूर्ति सी हरि शंकर ने कहा कि जिस तरह एक बेटी और एक बेटा एक जोड़े के बच्चों के रूप में मान्यता के समान रूप से हकदार हैं, उसी तरह माता और पिता भी बच्चे के माता-पिता के रूप में मान्यता के समान रूप से हकदार हैं।

TAGGED:
Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *