Aap ka khulasa : आतिशी ने किया खुलासा हम चार नेता को भी ईडी गिरफतार करने के लिए योजना बना रहा है

News Hustle India
3 Min Read

नईदिल्ली,2 अप्रेल, जैसा कि कल आप नेता आतिशी ने सोसल मिडिया पर पोस्ट कर कहा था कि वह 2अप्रेल को सुबह 10 बजे बड़ा खुलासा करने वाली है इसी तारतम्य में वह आज सुबह दस बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस लेकर कहा कि ईडी के निशाने पर अभी आप के चार और बड़े नेता हैं जिनको ईडी गिरफ्तार करना चाहता है । उसने कहा कि मुझे भी ईडी गिरफ्तार करना चाहता है । वह सौरभ भारद्वाज,राघव चड्ढा और दुर्गेश पाठक को भी गिरफतार करना चाहता है । दरअसल भाजपा यह चाहती है कि भाजपा में आओ या जेल जाओ । आज मेरे एक करीबी के जरिए भाजपा ने ऑफ़र दिया है कि हम लोग भाजपा में शामिल हो जाएं अन्यथा जेल जाने के लिए तैयार रहें । लेकिन हम भगत सिंह के चेले हैं किसी से डरने वाले नहीं । अन्तिम क्षण तक केजरीवाल के साथ लोकतंत्र और संविधान बचाने के लिए जूझते रहेंगे । देश सेवा से हम पीछे नहीं हटेंगे चाहे भाजपा कितनी भी मुसीबत लेकर आए । हम अरविंद केजरीवाल के सिपाही हैं । ईडी बहुत जल्द हम चारों के घर रेड करेगा फिर समन भेजेगा और गिरफतार कर लेगा । भाजपा को आप से अरविंद केजरीवाल से डर है इसलिए ये लोग हमें लोकसभा चुनाव के प्रचार से बेदखल करना चाहते है। उसने देखा कि अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी से आप पार्टी पर कोई असर नहीं हो रहा है तो अब वह हम चार नेताओं को भी निशाने पर रखी है । और जेल भेजने का अवसर तलाश रही है । सौरभ ने कहा कि इंडिया गठबंधन की रैली देखकर भी ये लोग घबराए हुए हैं । सभी विपक्षी एकजुट होकर आए थे । सभी को हमने बुलाया था । अब मोदी को अपनी कुर्सी जाने का भय सताने लगा है इसलिए वह आप पार्टी को किसी भी तरह बंद करना चाहते हैं लेकिन वे अपने मकसद में कभी सफल नहीं होंगे । आतिशी ने कहा कि अरविंद केजरीवाल इस्तीफा नहीं देंगे ।अरविंद केजरीवाल को कल पेशी में न्यायालय ने 15 दिन की न्यायायिक हिरासत में भेज दिया है वहीं अरविंद केजरीवाल को तिहाड़ जेल में शिफ्ट कर दिया गया है । जहां वह बैरक नम्बर 2  में है।  उनको गहन सुरक्षा घेरे में रखा गया है । चार सुरक्षा प्रहरी बैरक के बाहर खड़े हैं और वह 24 घंटे सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में है । उनकी टीवी देखने की इजाजत है पर रात में वे कुछ नहीं किए । कभी कुर्सी पर बैठे रहे तो कभी टहलते और कभी लेटते रहे । रात में उनकी नींद ठीक से नहीं पड़ी । उन्हें कल घर का खाना मुहैया कराया गया । वे सप्ताह में केवल दो दिन अपने परिजन से मिल सकते हैं ।

TAGGED:
Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *