Thursday, May 19th, 2022

नए साल पर बड़ी राहत, LPG गैस सिलिंडर 102.50 रुपए सस्ता हुआ

LPG Gas Cylinder Price: साल 2022 के पहले दिन सरकार ने लोगों को LPG Gas Cylinder की कीमत में 102.50 रुपए की राहत दी है. 19 किलोग्राम वाले एलपीजी गैस सिलिंडर की कीमत में यह कटौती की गई है. नई कीमत 1 जनवरी 2022 से लागू हो चुकी है. कीमत में कटौती के बाद नई दिल्ली में 19 किलोग्राम वाले गैस सिलिंडर की नई दर 1998.50 रुपए हो गई.

हालांक घरेलू गैस सिलिंडर की कीमत में कोई बदलाव नहीं हुआ है. इससे पहले 1 दिसंबर 2021 को 19 किलोग्राम वाले गैस सिलिंडर की कीमत में 100 रुपए की बढ़ोतरी की गई थी. उसके बाद दिल्ली में यह कीमत 2101 रुपए हो गई थी. उससे पहले 1 नवंबर को भी कमर्शियल गैस सिलिंडर की कीमत में 266 रुपए की बढ़ोतरी हुई थी, जिसके बाद यह कीमत 2000.50 रुपए पर पहुंच गई थी.

2012-13 के बाद कीमत सबसे ज्यादा

2012-13 के बाद 19 किलोग्राम वाले गैस सिलिंडर का यह सबसे महंगा रेट था. उस साल कमर्शियल गैस सिलिंडर का रेट 2200 रुपए तक पहुंच गया था. आज कमर्शियल गैस सिलिंडर की कीमत में राहत मिली है. हालांकि, 14.2 किलोग्राम वाले गैस सिलिंडर और 5 किलोग्राम वाले गैस सिलिंडर की कीमत में किसी तरह का कोई बदलाव नहीं हुआ है.

किस शहर में कितना दाम

19 किलोग्राम वाले गैस सिलिंडर की कीमत मुंबई में 1948.50 रुपए, कोलकाता में 2076 रुपए और चेन्नई में 2131 रुपए है. कल तक यह भाव दिल्ली में 2101 रुपए, कोलकाता में 2177 रुपए, मुंबई में 2051 रुपए और चेन्नई में 2234.50 रुपए था.

14 किलोग्राम वाले सिलिंडर में कोई बदलाव नहीं

14 किलोग्राम वाले गैस सिलिंडर की कीमत में किसी तरह का बदलाव नहीं हुआ है. घरेलू गैस सिलिंडर की कीमत में हर महीने की पहली तारीख को बदलाव होता है. इसके अलावा जरूरत पड़ने पर तेल कंपनियां महीने के बीच में भी कीमत में कटौती या बढ़ोतरी करती हैं.

केवल कमजोर लोगों को मिलेगी सब्सिडी

अब LPG रसोई गैस पर सब्सिडी केवल आर्थिक तौर पर कमजोर लोगों को ही देने की तैयारी की जा रही है. सूत्रों के मुताबिक सरकार LPG रसोई गैस सब्सिडी के नए दिशा निर्देश जारी करने की तैयारी कर रही है. इसको लेकर फरवरी में पेश होने वाले बजट में ऐलान संभव है. इसके बाद LPG रसोई गैस पर मिलने वाली सब्सिडी सिर्फ कमजोर आर्थिक वर्ग में आने वाले लोगों को ही दी जाएगी.

कीमत में अचानक आए बदलाव का असर कंपनियों पर होगा

इसके अलावा इन नए दिशा-निर्देशों के तहत सरकार का प्रस्ताव है कि कीमतों में अचानक बढ़ोतरी होने पर उसका भार तेल कंपनियां ही उठाएंगी. दाम घटने पर नुकसान की भरपाई भी HPCL, BPCL और IOC जैसी तेल कंपनियां ही करेंगी. मौजूदा समय में, बाजार में कीमत और वास्तविक दाम में करीब 250 रुपए का अंतर है. इसके साथ सरकार बजट में LPG सब्सिडी में भारी कटौती की तैयारी में भी है. इसके लिए पेट्रोलियम मंत्रालय ने सब्सिडी से संबंधित एक प्रस्ताव तैयार किया है. इसके तहत, पेट्रोलियम मंत्रालय ने सिर्फ 6000 करोड़ रुपए की सब्सिडी देने की बात की है. सरकार ने वित्त वर्ष 2022 के लिए सब्सिडी के तहत 14,073 करोड़ आवंटित किए हैं.

Leave a Reply

x
%d bloggers like this: