Saturday, July 24th, 2021

एमएस धोनी और सरफराज अहमद की कप्तानी में क्या है अंतर- पाकिस्तानी खिलाड़ी के साथी ने किया खुलासा

साउथ अफ्रीका (South Africa) के पूर्व कप्तान फाफ डु प्लेसिस (Faf du Plessis) आईपीएल में महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की कप्तानी वाली चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) के लिए खेलेत हैं. आईपीएल-2021 (IPL 2021) के स्थगित होने से पहले वह शानदार फॉर्म में थे और अब वह पाकिस्तान सुपर लीग (Pakistan Super League) में खेलने को तैयार हैं. पीएसएल में वह क्वेटा ग्लैडिएटर्स (Quetta Gladiators) से खेलेंगे. पीएसएल की शुरुआत 9 जून से अबू धाबी में हो रही है. इस टीम के कप्तान हैं सरफराज अहमद (Sarfaraz Ahmed). उन्होंने कहा है कि सरफराज की कप्तानी की शैली लगभग विराट कोहली (Viart Kohli) के जैसी है. उन्होंने धोनी की कप्तानी को लेकर भी अपनी बात रखी है और उन्हें कूल एवं रिजर्व बताया है.

आईपीएल-2021 के स्थगित होने से पहले डु प्लेसिस ने चेन्नई सुपर किंग्स के लिए सात मैचों में 145.75 की स्ट्राइक रेट से 320 रन बनाए थे. वहीं पिछले साल उन्होंने सीएसके के लिए 13 मैचों में 449 रन बनाए थे.

ये है अंतर

डु प्लेसिस ने विराट कोहली और सरफराज अहमद की आक्रामक कप्तानी की तुलना धोनी की कप्तानी से की है. उन्होंने कहा, “काफी अलग… धोनी काफी शांत और रिजर्व खिलाड़ी हैं. वह काफी चीजें मैदान पर ही करते हैं. सरफराज पूरी तरह से अलग हैं… लगभग विराट की तरह. हमेशा खिलाड़ियों से बात करने वाले, गेंदबाजों से बात करने वाले. वह जिस तरह से टीम की कप्तानी करते हैं उसे लेकर काफी जुनूनी रहते हैं और उसे बताते हैं. इसलिए कोई गलत और सही नहीं है. यह दो अलग शैली हैं.”

अलग-अलग कप्तानों के साथ खेलना पसंद

डु प्लेसिस ने कहा है कि उन्हें अलग-अलग कप्तानों के अंडर खेलना पसंद है. डु प्लेसिस ने कहा, “वह पाकिस्तान के कप्तान रहे हैं और उन्होंने खिलाड़ियों से सर्वश्रेष्ठ निकलवाया है. मैंने हमेशा अलग-अलग कप्तानों के अंडर में खेलने का लुत्फ उठाया है सिर्फ यह देखने के लिए कि वो किस तरह से अपना काम करते हैं क्योंकि मैं भी कप्तानी को लेकर काफी जुनूनी रहता हूं. इसलिए मेरे लिए यह देखना अच्छा रहता है कि वह किस तरह से चीजें करते हैं. जब जरूरत पड़ती है तो मैं अपने इंनपुट्स देता हूं.”

डु प्लेसिस साउथ अफ्रीका के कप्तान रह चुके हैं. उनकी कप्तानी में साउथ अफ्रीका ने 36 में से 18 टेस्ट जीते हैं. वहीं वनडे की बात की जाए तो उन्होंने 76 वनडे मैचों में साउथ अफ्रीका की कप्तानी की है जिसमें से 51 में उसे जीत और 23 में उसे हार मिली है.

Leave a Reply

x
%d bloggers like this: