Friday, June 25th, 2021

Navneet Kalra को मिली जमानत, कोर्ट ने रखी शर्त, जिन लोगों को ऑक्सिजन कंसंट्रेटर बेचे उनसे नहीं मिलेंगे

नई दिल्‍ली
बिजनसमैन नवनीत कालरा (Navneet Kalra) को ऑक्सि‍जन कंसंट्रेटर की कालाबाजारी के मामले में दिल्‍ली की एक अदालत से जमानत मिल गई है। यह जमानत उसे कई शर्तों के साथ दी गई है। कोर्ट ने कालरा को उन लोगों से संपर्क करने से मना किया है जिन्‍हें उसने ऑक्सिजन कंसंट्रेटर बेचे थे।

कालरा को जमानत देने में कोर्ट ने मुख्‍य रूप से तीन शर्तें रखी हैं। पहली, वह सुबूतों के साथ छेड़छाड़ नहीं करेगा। दूसरी, गवाहों को प्रभावित नहीं करेगा। तीसरी, जांच में पूरा सहयोग देगा। कोर्ट में दिल्‍ली पुलिस ने कालरा की जमानत याचिका का विरोध किया।

जज अरुण कुमार गर्ग ने कहा कि कालरा उनमें से किसी भी व्‍यक्ति से संपर्क नहीं करेंगे जिन्‍हें उन्‍होंने ऑक्सिजन कंसंट्रेटर बेचे हैं। इसके पहले कोर्ट ने दिल्‍ली पुलिस की याचिका खारिज कर दी। उसने कालरा की पांच दिनों की कस्‍टडी मांगी थी।

व्‍यवसायी पर दक्षिण दिल्‍ली के कुछ रेस्‍तरां में ऑक्सिजन कंसंट्रेटर की जमाखोरी का आरोप है। दिल्‍ली पुलिस ने इन रेस्‍टोरेंटों में छापेमारी की थी। उसे यहां से बड़ी तादाद में ऑक्सिजन कंसंट्रेटर मिले थे।

Navneet Kalra क्‍या है पूरा मामला?

इनमें खान चाचा रेस्‍टोरेंट, नेगे जू रेस्‍टोरेंट शामिल थे। इनका मालिक नवनीत कालरा है। पुलिस का कहना है कि ऑक्सिजन कंसंट्रेटर की कालाबाजारी का प्‍लान मेट्रिक्‍स सेलुलर के मालिक गगन दुग्‍गल ने बनाया है।

इन ऑक्सिजन कंसंट्रेटर को कालरा के रेस्‍टोरेंटों से अनाप-शनाप कीमतों में बेचा जा रहा था। गगन ने लंदन में बैठकर इसकी प्‍लानिंग की। गगन की भारत में कंपनी का सीईओ गौरव खन्‍ना है

Leave a Reply

x
%d bloggers like this: