Tuesday, June 22nd, 2021

New virus in Nepal 2021 कोरोना के नेपाल वाले वैरिएंट ने मचाया यूरोप में हड़कंप, वैक्सीन को भी दे सकता है चकमा

New virus in Nepal 2021 : यूरोप में कोरोना वायरस के नए वैरिएंट की वजह से एक बार फिर से हड़कंप मच गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, कोरोना का यह वैरिएंट सबसे पहले नेपाल में मिला था।

अब वैज्ञानिकों ने यह भी आशंका जाहिर की है कि नया वैरिएंट वैक्सीन को भी चकमा दे सकता है। यह वैरिएंट पुर्तगाल में मिला है। 

हालांकि, ब्रिटेन सरकार के साइंटिफिक एडवाइजरी ग्रुप फॉर इमरजेंसी यानी SAGE के एक सदस्य का कहना है कि वैरिएंट को लेकर अचानक से चिंतित होने की जरूरत नहीं है। पहले से ही वायरस के हजारों वैरिएंट मौजूद है। यह एक ऐसा वायरस है जो हमेशा बदलता रहता है।

New virus in Nepal 2021 कोरोना के नेपाल वाले वैरिएंट ने मचाया यूरोप में हड़कंप, वैक्सीन को भी दे सकता है चकमा
New virus in Nepal 2021 कोरोना के नेपाल वाले वैरिएंट ने मचाया यूरोप में हड़कंप, वैक्सीन को भी दे सकता है चकमा

New virus in Nepal 2021 : बोरिस जॉनसन पहले ही यह चेतावनी दे चुके हैं

यह रिपोर्ट ऐसे वक्त में आई है जब ब्रितानी पीएम बोरिस जॉनसन पहले ही यह चेतावनी दे चुके हैं कि कोरोना को नियंत्रित करने के लिए उन्हें किसी भी देश को ट्रैवल की ग्रीन लिस्ट से हटाने में जरा भी संकोच नहीं होगा। 

शनिवार को वियतनाम ने बताया कि उन्हें कोरोना का एक बेहद खतरनाक वैरिएंट मिला है। इस वैरिएंट में भारत और यूके में मिले स्ट्रेन शामिल हैं, जो कि तेजी से हवा में फैलते हैं। 

Read This Also…

यूरोप में मंडराया कोरोना के नेपाल वैरिएंट का खतरा, वैज्ञानिकों ने किया अलर्ट

यूरोप में कोरोना के एक नए वैरिएंट का खतर मंडरा रहा है। डेली मेल की खबर के मुताबिक वायरस पर रिसर्च कर रहे वैज्ञानिकों के मुताबिक यह कोरोना का नेपाल वैरिएंट है जो धीरे-धीरे पूरे यूरोप में फैल चुका है।

इस बात की भी आशंका जताई जा रही है कि इस वैरिएंट पर टीकों का कोई असर नहीं होत है। वैज्ञानिकों ने मंत्रियों के समूह को ऐसे समय में अलर्ट किया है जब यूरोप में छुट्टियां मनाने के लिए पर्यटक स्थलों को अपग्रेड करने की तैयारी हो रही है।

वहीं सरकार की एसएजीई विशेषज्ञों की समिति के एक सदस्य ने कहा कि अधिकारियों को ज्यादा चिंतित नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा: ‘हजारों वैरिएंट हैं। यह एक ऐसा वायरस है जो हर समय बदल रहा है।’

एयरपोर्ट ऑपरेटर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष ने कहा: ‘हमें और कितने रूपों के बारे में चिंतित होना चाहिए? हमारे वैक्सीनेशन कार्यक्रम की सफलता ही मायने रखता है।

दरअसल सरकार उन देशों की अपनी ‘ग्रीन लिस्ट’ को अपडेट कर रही है जहां छुट्टियां मनाने वाले बिना क्वारंटाइन में गए  यात्रा कर सकते हैं।  सूत्रों ने कहा कि नेपाल वैरिएंट और पूरे यूरोप में वैक्सीनेशन की धीमी रफ्तार की चिंता के बीच यह लिस्ट बेहद सीमित होगी।

कोरोना को लेकर रोज नई स्टडी और खुलासे सामने आ रहे हैं. अब विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने मंगलवार को नए वैरिएंट पर एक राहत की खबर दी है. WHO ने कहा कि भारत में सबसे पहले मिले कोरोना वैरिएंट का सिर्फ एक स्ट्रेन ही चिंता पैदा करने वाला है जबकि बाकी दो स्ट्रेन की संक्रमण फैलाने की दर बहुत कम है.

Read This Also…

B.1.617.2 से सबसे ज्यादा खतरा

कोरोना पर वीकली अपडेट में WHO ने कहा, ‘तब से यह साबित हो गया है कि लोगों की जान को सबसे अधिक खतरा B.1.617.2 से है जबकि बाकी के स्ट्रेन में संक्रमण फैलाने की दर बहुत कम है.’अपडेट में कहा गया, ‘B.1.617.2 अब भी वीओसी है और हम इससे संक्रमण फैलने की बढ़ती दर और इस स्ट्रेन से कई देशों में बढ़ते संक्रमण के मामलों पर नजर रख रहे हैं. स्ट्रेन के असर पर स्टडी ही हमारी प्राथमिकता है.

……………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………..

See This Video Also : Baba Ramdev को Dr Kuldip Solanki ने दिया 100 करोड़ का खुला challenge (Allopathy vs Ayurveda)

Photo Source Google Images

More Search Results :

coronavirus news in nepal
brazilian new variant of covid
new variant of covid-19
coronavirus vaccine news
new variant of coronavirus symptoms
new variant of covid-19 symptoms
covid third variant symptoms
indian variant uk

Leave a Reply

x
%d bloggers like this: