Thursday, December 9th, 2021

P K : कांग्रेस हाईकमान का आदेश… प्रशांत किशोर से चुनावी रणनीति साझा करेंगे सीएम चन्नी

पंजाब की राजनीति में फिर से प्रशांत किशोर की एंट्री हो गई है। पंजाब कांग्रेस में चल रहे घमासान के बीच कांग्रेस ने दोबारा पीके की तरफ देखना शुरू कर दिया है। सीएम चरणजीत चन्नी ने खुद इसकी पुष्टि की है। एक समाचार चैनल से बातचीत में सीएम चन्नी ने यह जानकारी दी कि उन्हें आलाकमान की तरफ से प्रशांत किशोर से चुनावी रणनीति साझा करने को कहा गया है।

ऐसे में अगर प्रशांत किशोर फिर पंजाब में कांग्रेस के लिए रणनीति बनाते हैं तो बतौर चुनावी रणनीतिकार इसे उनकी वापसी समझा जाएगा। ऐसा इसलिए क्योंकि अगस्त में ही पीके ने तत्कालीन मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के प्रमुख सलाहकार पद से इस्तीफा दे दिया था। 2017 के चुनाव में प्रशांत ने कैप्टन के लिए चुनाव रणनीति तैयार कर पंजाब में कांग्रेस के लिए 10 साल का सत्ता का सूखा दूर करने में अहम भूमिका निभाई थी।   एक रुपये वेतन पर कैबिनेट रैंक के साथ हुई थी नियुक्त 
कैप्टन ने 2022 के पंजाब विधानसभा चुनाव में प्रशांत की सेवाएं लेने के लिए उन्हें एक रुपये के वेतन पर कैबिनेट रैंक के साथ प्रधान सलाहकार नियुक्त किया था। इस नियुक्ति के बाद कुछ ही दिन सक्रिय रहे प्रशांत उस समय से कैप्टन सरकार से दूरी बनाए हुए थे, जब उन्होंने विधायकों को चंडीगढ़ बुलाकर पूछताछ की थी और मौजूदा विधायकों में से कौन-कौन दोबारा टिकट दिए जाने लायक हैं, के बारे में कैप्टन को रिपोर्ट सौंपी थी। कुछ दिन पहले ही पीके ने राहुल गांधी को दी थी नसीहत
वहीं कुछ दिन पहले एक अंग्रेजी अखबार को दिए बयान में प्रशांत किशोर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में कहा था कि भाजपा दशकों तक सत्ता के केंद्र में बनी रहेगी। राहुल गांधी के बारे में पीके ने कहा था उन्हें लगता है कि लोग मोदी को हटा देंगे, लेकिन ऐसा नहीं है। लोग मोदी की ताकत को समझ नहीं पा रहे हैं। जब तक आप यह न समझ सकें कि क्या बात उन्हें लोकप्रिय बना रही है तब तक उनको काउंटर नहीं कर पाएंगे। 

Leave a Reply

x
%d bloggers like this: