Tuesday, June 22nd, 2021

RAMADAN 2021 :-रमजान के महीने में होती है खुदा की खास इबादत ,पूरी करते हैं लोग औरों की जरूरत

रायपुर,(प्रियंका घाटगे, न्यूज़ हसल इंडिया)
भारतीय संस्कृति हमेशा से ही विभिन्न धर्म के रंगों से सराबोर रही है। यहां अनेक रंगों में एक रंग के दर्शन होते हैं। अप्रेल के महीने से ही मुसलमानों के पवित्र रमजान के महीने की शुरुवात हो चुकी है। यह वह पवित्र महीना वह महीना होता है। जब लोग खुदा की इबादत बड़ी शिद्दत से करते है। वे लोग अपने परिवार और दूसरों के लिए दुआएं मांगते है। रमजान के पवित्र महीने का महत्व इतना अधिक है कि कई बार हमें देखने को मिलता है। इस धर्म में बहुत ही छोटे -छोटे बच्चे भी रमजान का उपवास रखते है। रमजान के महीने का उपवास बहुत ही अधिक कठिन होता है। इसमें सुबह सूर्योदय के समय यानी लगभग प्रातः 4 – 5 बजे के समय लोग उठकर जल्दी अपना भोजन कर लेते हैं। जिसे सेहरी कहते है इसके बाद दिनभर निराहार और निर्जला उपवास रखकर शाम को सूर्यास्त के बाद भोजन करते हैं। जिसे इफ्तार कहते हैं। हर दिन सेहरी और इफ्तार का मुहूर्त होता है। जिसके अनुसार लोग महीने भर सेहरी और इफ्तार करके खुदा की इबादत करते हुए रोजा रखते हैं। इन रोजा रखने वालों को रोजेदार भी कहा जाता है। रमजान के पवित्र महीने लोग पांच समय की नमाज पढ़ते हैं। अपना ध्यान अल्लाह में लगाते हैं। यह समय दूसरे लोगों की सेवा करने का महीना भी होता है। इस महीने में लोग जरूरतमंदों की सेवा और उनकी मदद भी करते हैं। इस महीने रोजा रखने वाले लोगों को उनके रोजा रखने से उन्हें अन्य दिनों की अपेक्षा अधिक फल मिलता है। इस महीने में लोगों से जो गलतियां हुई है। उनके लिए लोग माफ़ी भी मांगते हैं और अपने लिए जन्नत में जाने का आशीवार्द भी मांगते हैं। रमजान का यह महीना अप्रैल से शुरू हो चूका है जो कुछ दिनों में ख़त्म हो जाएगा। इतनी गर्मी के चलते जब लोग जब खुदा की इबादत करते है। तब यह समय सच में किसी कठिन परीक्षा के समय से कम नहीं होता है। लोगों की आस्था के चलते यह समय भी निकल जाता है और लोग इस कड़ी परीक्षा को बड़ी ही ख़ुशी के साथ देते हैं और खुदा से अपनों के लिए खुब दुआएं मांगते हैं।

Leave a Reply

x
%d bloggers like this: