Friday, July 23rd, 2021

Supreme court ने की टिप्पणी – देश मे राष्ट्रीय आपातकाल

नईदिल्ली, न्यूज हसल इंडिया NHI,

मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट ने कोरोना महामारी व्यवस्था से सम्बंधित एक याचिका पर सुनवाई करते हुए टिप्पणी की कि कोरोना ने देश मे भयंकर त्रासदी लाई है और अदालत अब मूकदर्शक बनकर नही रह सकती है ।

यह राष्ट्रीय आपातकाल है । कोर्ट ने टीकों की व्यवस्था ,उसके दाम, टीकों की उपलब्धता तथा ऑक्सीजन समेत कुछ मुद्दों पर जवाब मांगा है । शुक्रवार 30 अप्रेल को वह केंद्र सरकार से इन तमाम मुद्दों पर जवाब चाहता है ।

सुप्रीम कोर्ट ने जिन मुद्दों पर जानकारी मांगी है उसमें केंद्र के पास ऑक्सीजन की वर्तमान उपलब्धता क्या है, और राज्यो की ऑक्सीजन की अनुमानित जरूरत क्या है, आक्सीजन की आपूर्ति की क्या व्यवस्था है,

ऑक्सीजन की जरूरत की पूर्ति करने के लिए कार्य प्रणाली क्या है, चिकित्सा उपकरणों कोविड बेडस रेमडिसिवर दवा की उपलब्धता क्या है,

इसकी आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए उठाए गए कदमों की जानकारी,वैक्सीन की अनुमानित जरूरत,व टीकों की कीमत तय करने का आधार क्या है इस बारे में जानकारी मांगी गई है । सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि राष्ट्रीय संकट के समय अदालत की अहम भूमिका होती है और वह मूक दर्शक नहीं बन सकती है ।

Leave a Reply

x
%d bloggers like this: