Wednesday, September 22nd, 2021

UP Flood: बारिश की वजह से गंगा-यमुना का रौद्र रूप! बाढ़ से जूझ रहे यूपी के 23 जिले, कई गांवों से टूटा संपर्क

पहाड़ों पर लगातार हो रही भारी बारिश की वजह से यूपी के 23 जिलों में बाढ़ (UP Flood) आ गई है. जिसकी वजह से लोगों को काफी परेशानी झेलनी पड़ रही है. बारिश की वजह से नदियां खतरे के निशान को पार कर चुकी हैं. बुंदेलखंड में यमुना और पूर्वांचल में गंगा (Ganga-Yamuna Overflow) ने इन दिनों रौद्र रूप धारण किया हुआ है. नदियों के उफान की वजह से ही 23 जिले भीषण बाढ़ से जूझ रहे हैं.

यूपी के 1243 गांव इन दिनों बाढ़ (UP Flood in 23 District) की चपेट में हैं. गंगा के उफान की वजह से बदायूं, प्रयागराज, मिर्जापुर, गाजीपुर और बलिया में बाढ़ से स्थिति बहुत रही खराब है. वहीं यमुना के उफान (Yamuna Overflow) की वजह से औरैया, जालौन, हमीरपुर, बांदा में बाढ़ आ गई है. बेतवा नदी ने हमीरपुर में कोहराम मचा दिया है. वहीं शारदा नदी का जलस्तर बढ़ने से लखीपुर के पलिया में बाढ़ आ गई है

दूसरी जगहों से टूटा गांवों का संपर्क

बाढ़ से हालात इस कदर बिगड़ गए हैं कि पूर्वांचल इलाके में की गंगा घाट पानी में पूरी तरह से डूब चुके हैं. गंगा किनारे बसे गांवों का संपर्क दूसरी जगहों से टूट गया है. काशी में गंगा जमकर तबाही मचा रही हैं. बाढ़ की वजह से बहुत से लोगो घरों में फंसे हैं. कई लोगों को तो छतों पर शरण लेनी पड़ी है वाराणसी शहर का निचला हिस्सा जलमग्न हो चुका है.शहर के साथ ही ग्रामीण इलाकों में हाहाकार मचा हुआ है. रुक-रुककर हो रही बारिश की वजह से नदियां उफान पर हैं. वहीं 13 अगस्त तक भारी बारिश की चेतावनी भी जारी की गई है.

गंगा के पानी में हो रहा लगातार इजाफा

अगर बारिश ऐसे ही होती रही तो हालात और भी खराब हो सकते हैं. प्रयागराज में गंगा के पानी का स्तर थोड़ा कंट्रोल हुआ लेकिन बारिश की वजह से यह फिर से बढ़ सकता है. मिर्जापुर में गंगा खतरे के निशान से 77.724 मीटर ऊपर हैं पहुंच गई हैं. वहीं हर घंटे जलस्तर 1 सेमी की रफ्तार से बढ़ रहा है. वहीं सोनभद्र के रिहंद बांध के जलस्तर में ढाई फीट से ज्यादा भी बढ़ोत्तरी हुई है. मऊ जिले में घाघारा नदी का जलस्तर नीचे है लेकिन आजमगढ़ में हालत खराब है

Leave a Reply

x
%d bloggers like this: