Friday, July 30th, 2021

Venkaiah Naidu Twitter Blue Tick: उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू के निजी Twitter अकाउंट का वापस आया ब्लू टिक, ट्विटर और केंद्र सरकार के बीच बढ़ा टकराव

Venkaiah Naidu Twitter Blue Tick : ट्विटर ने केंद्र सरकार के बीच टकराव वाली स्थिति पैदा हो गई है। सुबह-सुबह ही ट्विटर ने भारत के उपराष्ट्रपति एम.वेंकैया नायडू के निजी हैंडल से ब्लू टिक हटा दिया है। इसके कुछ देर बाद ही उनका ब्लू टिक वापस लगा दिया गया

ट्विटर ने भारत के उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू (M. Venkaiah Naidu Twitter) के एकाउंट में ब्लू टिक (Venkaiah Naidu Twitter Blue Tick) वापस लगा दिया है। सूत्रों के हवाले से यह डाल दीजिएगा कि आईटी मंत्रालय की ओर से इस मामले को लेकर कड़ाई से निपटने की बात कही गई थी। इसके अलावा ट्विटर ने संघ के भी कई नेताओं के ट्विटर हैंडल को अनवेरीफाइड कर दिया थाइस मामले में ट्विटर की सफाई आई है। ट्विटर का कहना है कि लंबे समय से अकाउंट को लॉग इन नहीं किया गया। इस वजह से ये कदम उठाया गया।

g

उपराष्ट्रपति समेत तमाम आरएसएस के नेताओं के अकाउंट से भी ब्लू टिक हटाने का मामला अब बढ़ सकता है। सूत्रों की मानें तो सूचना प्रसारण मंत्रालय ने इस पर नाराजगी व्यक्त की है। हालांकि ट्विटर ने इस कार्रवाई के पीछे कारण स्पष्ट कर दिया है लेकिन मामला इतनी आसानी से निपटने वाला नहीं है। इससे पहले भी ट्विटर और केंद्र सरकार के बीच टकराव वाली स्थिति बन रही थी। अब ऐसे में ट्विटर की ये कार्रवाई से ये विवाद तूल पकड़ सकता है।

Venkaiah Naidu Twitter Blue Tick

ट्विटर ने उपराष्ट्रपति के पर्सनल अकाउंट के बाद राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ के कुछ बड़े नेताओं के अकांट को भी अनवेरीफाइड किया है। इसमें आरएसएस के सह कार्यवाहक सुरेश सोनी, सर कार्यवाह सुरेश जोशी का नाम शामिल है। इसके अलावा भी कुछ और आरएसएस के नेताओं का अकाउंट अनवेरीफाइड किया गया है।

इसका मतलब ये हुआ कि ट्विटर ने नायडू के एकाउंट को अनवेरिफाइड कर दिया है। हालांकि उनका जो ऑफिशियल एकाउंट है उसमें ब्लू टिक अभी भी लगा हुआ है। ट्विटर पर इस खबर के बाद लोग अपनी-अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। ट्विटर पर Vice president of india #Venkaiah Naidu के साथ टॉप पर ट्रेंड कर रहा है। ट्विटर पर लोग इसको अलग-अलग रंग दे रहे हैं। कोई इसको ट्विटर की गलती तो कोई ट्विटर की कार्रवाई बता रहा है।

Leave a Reply

x
%d bloggers like this: